G7 / द ग्रुप ऑफ़ सेवन (G7) क्या है, ये क्या काम करती है और इसके कौन से सदस्य हैं

0
160
G7 or the group of seven news
Members of G7 Countries

G7, IMF (The International Monetary Fund) या अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष द्वारा बतायी गयी सबसे विकसित अर्थव्यवस्थाएँ वाली देशों की एक संघ या समूह है जिसमे सात देश अभी हैं शामिल।

G7 के सदस्य कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, इटली, जापान, यूनाइटेड किंगडम और यूरोपीय संघ है, इसमें आने वाले सभी देश पूरी दुनिया के सबसे आमिर और शक्तिशाली देश हैं, जिसकी प्रति व्यक्ति आय बांकी सभी देशों की तुलना में ज्यादा है।

ये 1975 में शुरू किया गया एक सम्मेलन है, जो पहले G6 था, जिसके बाद कनाडा के शामिल होते ही अब G7 हो गया था।

1998 में इस सम्मेलन में रूस को भी शामिल गया था, जिसके बाद ये G8 हो गए थे, लेकिन रूस और यूक्रेन के बिच तनाव पैदा होने के बाद रूस को बाहर कर दिया गया था और इस तरह से G8 अब G7 बन के रह गया।


ये संघ “मूल्यों का समुदाय” माना जाता है, एक ऐसा समुदाय जो मूल्यों का सम्मान करता है तथा मानव अधिकार, स्वतंत्रता, कानून, प्रजातंत्र, समृद्धि और सतत विकास के स्वतंत्रता और संरक्षण इसके मुख्य सिद्धांत हैं।

आमतौर पर हर देश हर 7 साल में एक बार शिखर सम्मेलन की मेजबानी करता है। 24 मार्च, 2014 को G7 सदस्यों ने रूस के सोची शहर में उस वर्ष के जून में आयोजित होने वाले जी 8 शिखर सम्मेलन को रद्द कर दिया था, रूस के क्रीमिया के विनाश के कारण समूह के रूस की सदस्यता निलंबित कर दी थी, फिर भी उन्होंने एकमुश्त स्थायी निष्कासन को रोक दिया, और COVID-19 महामारी के कारण 2020 शिखर सम्मेलन को अंततः रद्द कर दिया गया था, जो अब 2021 में होने जा रहा है।

इस वर्ष 47 वें G7 शिखर सम्मेलन 2021 की गर्मियों के दौरान यूनाइटेड किंगडम में आयोजित करने का इरादा है, दिनांक 11-13 जून 2021, स्थल – कार्बिस बे, सेंट इवेस, कॉर्नवाल, यूनाइटेड किंगडम (UK)

वर्ष 2021 G7 शिखर सम्मेलन में कुछ नए देशों को भी आमंत्रित किया गया है, आमंत्रितों की श्रेणी में आने वाले तीन देश हैं जिसमे भारत, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण कोरिया है।

G7 या G7 सम्मेलन क्या है ?

G7, IMF (The International Monetary Fund) या अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष द्वारा बतायी गयी सबसे विकसित अर्थव्यवस्थाएँ वाली देशों की एक संघ या समूह है जिसमे सात देश अभी हैं शामिल।G7 or the group of seven news

G7 क्या और कैसे काम करता है ?

ये संघ “मूल्यों का समुदाय” माना जाता है, एक ऐसा समुदाय जो मूल्यों का सम्मान करता है तथा मानव अधिकार, स्वतंत्रता, कानून, प्रजातंत्र, समृद्धि और सतत विकास के स्वतंत्रता और संरक्षण इसके मुख्य सिद्धांत हैं।

कितने दिनों में और कहाँ होता है G7 सम्मलेन ?

आमतौर पर हर देश हर 7 साल में एक बार शिखर सम्मेलन की मेजबानी करता है। 24 मार्च, 2014 को G7 सदस्यों ने रूस के सोची शहर में उस वर्ष के जून में आयोजित होने वाले जी 8 शिखर सम्मेलन को रद्द कर दिया था, रूस के क्रीमिया के विनाश के कारण समूह के रूस की सदस्यता निलंबित कर दी थी, फिर भी उन्होंने एकमुश्त स्थायी निष्कासन को रोक दिया, और COVID-19 महामारी के कारण 2020 शिखर सम्मेलन को अंततः रद्द कर दिया गया था, जो अब 2021 में होने जा रहा है।

2021 में कब और कहाँ होगी G7 शिखर सम्मलेन ?

इस वर्ष 47 वें G7 शिखर सम्मेलन 2021 की गर्मियों के दौरान यूनाइटेड किंगडम में आयोजित करने का इरादा है, दिनांक 11-13 जून 2021, स्थल – कार्बिस बे, सेंट इवेस, कॉर्नवाल, यूनाइटेड किंगडम (UK)

2021 G7 सम्मेलन में कौन कौन से नए देश हैं आमंत्रित ?

वर्ष 2021 G7 शिखर सम्मेलन में कुछ नए देशों को भी आमंत्रित किया गया है, आमंत्रितों की श्रेणी में आने वाले तीन देश हैं जिसमे भारत, ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण कोरिया है।

Leave a Reply