महाराष्ट्र सरकार पत्रकारों और मीडिया के लोगों को पड़ेशान कर अपने अधिकारों का कर रही गलत इस्तेमाल

महाराष्ट्र में जब से शिवसेना ने कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर गठबंधन की सरकार बनाई है तभी से जनता और पत्रकारों के बुरे दिन शुरू हो गए।

महाराष्ट्र में ना ही साधु – संत सुरक्षित हैं, और ना हीं पत्रकार और वहां के लोग। 2019 के दीवाली से लेकर 2020 की दीवाली को आने तक ना जानें महाराष्ट्र सरकार द्वारा कितने ही अपराध हुए हैं।


पालघर में संतों की हत्या, बिहारियों पर अत्याचार, दिशा सालियान की रेप के बाद हत्या, सुशांत सिंह राजपूत की हत्या, नषीली पदार्थों की बिक्री, रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के 1000 से ज्यादा रिपोर्टरों व सहकर्मियों पर फर्जी FIR, अर्नब गोस्वामी पर हमला और अब जेल!


4 नवंबर की सुबह मुंबई पुलिस द्वारा रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के संपादक अर्नब गोस्वामी के साथ मार – पीट कर उन्हें असंवैधानिक तरीके से जेल ले आने के बाद, महाराष्ट्र सरकार ने सारी हदें पार कर दी।


बता दें की जब से मुंबई में हो रहे एक के बाद एक घटनाओं को देखते हुए इलेक्ट्रॉनिक मीडिया चैनल से “रिपब्लिक भारत” ने निर्दोषों पे हो रहे अत्याचारों के खिलाफ आवाज उठाई है, तब से लेकर अब तक उनके रिपोर्टरों तथा चैनल के मुख्य संपादक व चैनल के मालिक अर्नब गोस्वामी को जबरदस्ती पड़ेशान किया जा रहा।


लोगों ने अर्नब को सच्चाई दिखने के लिए खूब सराहा पर जब से महाराष्ट्र सरकार द्वारा अर्नब गोस्वामी को जेल लाया गया है, लोगों में महाराष्ट्र की सरकार और उनके तंत्र के खिलाफ गज़ब का जन आक्रोश देखने को मिल रहा। लाखों लोगों ने 4 दिनों से ट्विटर पर अर्नब की रिहाई का ट्रेंड चला रहे हैं। वहीँ बड़ी संख्यां में लोग विभिन्न राज्यों से सड़कों पर उतरे हुए हैं और महाराष्ट्र व केंद्र सरकार से न्याय की माँग कर रहे हैं।

खाश तौर पर लोग केंद्र की तरफ अपनी आश लगाए बैठे हैं की शायद केंद्र से कुछ मदत मिले पर केंद्र की तरफ से अभी तक कुछ सुनने को नहीं मिला।

अर्नब गोस्वामी ने मीडिया से बात करते हुए कहा की मुझे मेरे वकील से मिलने नहीं दिया जा रहा, और जब मैंने वकील से मिलने का जिक्र किया तो पुलिस द्वारा मुझे मारा गया साथ ही उन्होंने कहा की मेरी जान को खतरा है, उन्होंने सुप्रीम कोर्ट और केंद्र सरकार से मदत की गुहार लगाई।


अर्नब गोस्वामी की तरफ से उनका केस CJI “हरीश साल्वे” जी लड़ रहे हैं, पिछले दिनों की सुनवाई से अब तक कुछ फर्क देखने को नहीं मिला पर उम्मीद है की आज 9 नवंबर 2020 को 3 बजे तक कुछ सुनने को मिले।

Bihar चुनाव 2020: हमारी पहली कलम 10 लाख नौकरी पर चलेगी – तेजस्वी और चिराग बोले 10 को नितीश जी की विदाई तय

0

बिहार विधानसभा चुनाव में लगातार नेताओं का अपना – अपना बयान सामने आ रहा है। तमाम नेता वो चाहे सत्ता पर तत्कालीन काविज हो या फिर प्रतिपक्ष की भूमिका में हों, सभी लोग एक दूसरे पर आरोप – प्रत्यारोप लगा रहे हैं।

नितीश कुमार ने अपने रैली को संबोधित करते समय लगातार तेजस्वी के 10 लाख सरकारी नौकरी को लेकर मजाक उड़ाते नजर आ रहे हैं, उनका कहना है की 15 सालों तक ये लोग परिवारवाद में फंसे रहे इनलोगों को सिर्फ अपनी परिवार की चिंता रही, बिहार को इन लोगों ने दिया ही क्या है।

वहीं तेजस्वी यादव के रैली में विशाल जन सैलाव देखने को मिल रहा है लगातार उनका कहना है की हमारी पहली कलम 10 लाख नौकरी पर चलेगी और नितीश कुमार की विदाई 10 तारिक को तय है।

यही राग LJP के सुप्रीमो चिराग पासवान का भी है, साथ ही चिराग यह भी कहते नजर आ रहे हैं की अगर इस बार सरकार नही बदली तो बिहार और पिछड़ा हो जायेगा!

CRPF जवान: जिओ के कस्टमर केयर स्टाफ से कहा आप हमें कुत्ते – बिल्ली की आवाज सुना दो पर इस आदमी की नहीं

0

देश के CRPF का जवान ने अमिताभ बच्चन के नये कोरोना रिंगटोन पर किया जियो के कस्टमर केयर के फोन पर हंगामा!

इन दिनों सोशल मीडिया पर एक call रिकॉर्ड जम कर वायरल हो रहा है जिसमें एक शख्स जियो के ग्राहक सेवा प्रतिनिधि (कस्टमर केयर) से बात करते हुए कहता है की मैं देश के CRPF का ASI कैलाश बोल रहा हूँ, मै जब भी किसी को call करता हुँ तो हमें लगातार अमिताभ बच्चन की आवाज क्यो सुनाई दे रही है।

आपलोग क्या दिखाने का प्रयास कर रहे हैं?
जो शख्स खुद कोरोना से पीड़ित हो हम उसकी बातों को अहमियत क्यों दें?
हमें इस अभिनेता की आवाज सुनाई नही देनी चाहिए। आप हमें कुत्ते, बिल्ली की आवाज सुना दो पर एक ऐसे व्यक्ति नहीं जो खुद बीमारी से पीड़ित हो और दूसरों को स्वास्थ रहने का ज्ञान बाँट रहा हो।

लगातार जियो के तरफ से एक ही जवाब मिल रहा था की इसे हम बंद नहीं कर सकते ये सिर्फ समाज मे जागरुकता लाने के लिए है। लेकिन शिकायत कर्ता बात सुनने के लिए राजी ही नहीं था।

वो सिर्फ एक ही बात पर टीका था। शख्श ने ये तक भी कह डाला की ये मनहुश है इसकी पत्नी, बेटे, बहु समेत पूरे परिवार को कोरोना ने जकरा था। इसकी पत्नी संसद में कहती है की जिस थाली में खाते हो उसी में छेड़ करते हो। शख्स के मुताबिक ये हमारा महानायक नही है हमारा महानायक भगत सिंह, APJ अब्दुल कलाम साहब हैं।

साथ ही बिहार चुनाव पर भी CRPF जवान काफी तल्ख तेवर अपनाया हमें जल्द जियो के बड़े अधिकारियों से बात करवाये।

इससे पहले भी कोरोना काल में ही विभिन्न तरह के रिंगटोन सुना गया है।

लेखक कॉलर को बातों से पूर्णतः सहमत है।

बिहार में दूसरे चरण के हुए मतदान के बूथ संख्या 207 से 214 की उपलब्ध जानकारी

0

बिहार विधानसभा चुनाव का दूसरे चरण के मतदान में 94 सीटों पर 54.44 प्रतिशत हुआ वोट!

बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण का मतदान कल खत्म हुआ 17 जिलों की 94 सीटों पर मंगलवार को शाम छः बजे तक करीब 54.44 फीसदी वोट हुआ। लोगों में काफी उत्साह भी देखा गया। तमाम नेताओं ने भी अपना मतदान किया जिसमे बिहार के राज्यपाल, बिहार के मुख्यमंत्री, नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, केंदीय मंत्री रविशंकर प्रसाद, और तमाम नेताओं ने अपना मतदान दिया।

बिहार के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एचआर श्रीनिवास शाम को एक जानकारी साझा करते हुए कहा की शाम छः बजे तक प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक 54.44 प्रतिशत मतदान हुआ इसमें एक से दो फीसदी बढ़ोतरी हुई है । अगर आंकड़ों की बात करें तो मधुबनी में 54.67 प्रतिशत मतदान हुआ है।

बूथ संख्याकुल मतदानमहिलापुरुष
207519290229
208422211221
209559263296
210720358362
211392176216
212338148190
213742327415
214543271272
Total Voting Data of A.C Number 207 to 214

लोकतंत्र के इस पर्व में लोगों ने सामिल होकर अपने पसंदीदा उम्मीदबार को मतदान दिया। अब लोगों की निगाहें अब 10 नवंबर को होने वाली परिणाम के घोषणा पर टिकी है।

रिपब्लिक टीवी के संपादक अर्नब गोस्वामी को मुंबई पुलिस द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है उन्होंने कहा , “मुझे पुलिस ने पीटा है”

0

बुधवार यानी आज की सुबह अलीबाग (मुंबई) पुलिस ने दबंगई के साथ रिपब्लिक मीडिया नेटवर्क के एडिटर इन चीफ अर्नब गोस्वामी के निवास पर पहुँच, उनके साथ मार – पीट कर उन्हें बिना किसी पूर्व सूचना के गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के द्वारा सुचना मिली है की उनका केस सेक्शन 306 और इंडियन पीनल कोड के 34 के तहत रजिस्टर किया गया है। जिसमे बताया गया की ये केस 2018 का है, जब अर्नब गोस्वामी के अत्याचारों की वजह से एक माँ और उनके बेटे ने आत्महत्या किया था। पुलिस पुलिस का कहना है की उनके पास अर्नब के खिलाफ सबूत भी हैं।

साथ ही कहा जा रहा है की उनका ये केस पुलिस के द्वारा पहले ही बंद कर दी गयी थी पर जिस कोर्ट और पुलिस ने बंद किया था उनहोंने इसे वापिस खोला है। अर्नब के वकील का कहना है की पुलिस ने उन्हें बेल्ट से खिंचा तथा मार – पीट में उनके रीढ़ में काफी चोट आई है उनहोंने बताया की पुलिस ने कोई भी डॉक्यूमेंट उनके पत्नी को दिए बिना उन्हें वहां से उठाया है।

अर्नब गोस्वामी जी ने लोगों से आग्रह किया है की लोग उनका साथ दे, सच्चाई का साथ दे !

इसके बाद से भारतीय जनता पार्टी से मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस को दोषी ठराहया है और कहा है कांग्रेस लोकतंत्र का गाला घोंट रही है। 1975 में भी उनहोंने देश पर इमर्जेन्सी थोपी थी और आज देश के एक बहोत बड़े पत्रकार को गिरफ्तार कर के लोकतंत्र के चौथे असतंभ पर हमला करने का कार्य आज कांग्रेस कर रही है , कांग्रेस अपनी नाकामी को छुपाने केलिए देश के अंदर आराजकता पैदा करने का कार्य कर रही है और इसकी छूट किसी को नहीं देनी चाहिए।

पुलिस द्वारा मार – पीट की पूरी वीडियो-

Mumbai Police at Arnabs home

केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह द्वारा नारियल फोड़ने वालों और बम फोड़ने वालों के बीच बिहार विधानसभा चुनाव का विश्लेशण

Giriraj singh on bihar election 2020

बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण का मतदान कल है। चुनाव आयोग के आचार संहिता लगने के बाद तमाम जगहों पर प्रचार बंद हो गया है दूसरे चरण में तीन नवम्बर को 17 जिलों के दो करोड़ 86 लाख 11 हजार 164 मतदाता, 94 सीटें, 1464 उम्मीदाबारों के भाग्य का फैसला करेगा।

आज भी बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी, और देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी का दौरा है। बिहार के 5 रैलियों को सम्बोधित करेंगे। वहीँ नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव 11 रैलियां और चिराग पासवान 8 रैलियों को सम्बोधित करेंगे।

साथ ही NDA के कई दिग्गज नेताएं भी अभी बिहार के ग्राउंड ज़ीरो पर मौजुद हैं, आज 3 बजे सुपौल में तेजस्वी ने जमके NDA सरकार की खिंचाई की है, और डबल इंजन की सरकार के नाम से सम्बोधित किया और अपने सरकार के मेनूफेस्टो में पढाई, कमाई, सिंचाई, दवाई पर विषेश रूप से प्रकाश डाला है।

जबकि NDA सरकार ने भी जमकर गुंडाराज के दो लाल से अपने भाषण में जिक्र किया। वही कई दफा मुख्यमंत्री श्री नितीश कुमार जी ने “जनता ही मालिक है” तथा उनका विपक्ष पर गुस्से की साफ़ झलक देखी गयी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के बाद अब हरियाणा के कैबिनेट मंत्री अनिल विज भी लाएंगे लव जिहाद के खिलाफ क़ानून

देश में लगातार हो रहे हिन्दू महिलाओं के साथ धर्म परिवर्तन और लव जिहाद मामले को लेकर लोगों में जागरूकता देखने को मिल रही रही। अब लोग इस तरह के हो रहे घटनाओं को गंभीरता से लेने लगे हैं साथ ही सरकार के लोगों में भी इस तरह के अपराधों को अलग नजरिये से देखा जाने लगा है, पर अभी भी हमारे बुद्धिजीवी वर्ग ऐसे विषयों पर चर्चा करने से बचते दीखते हैं!

बता दें की हाल ही में हुए मुस्लिम युवक द्वारा निकिता तोमर की हत्या, लोगों द्वारा इस हत्या को लव जिहाद की नजरिये से देखा जा रहा। लोगों के लगातार आक्रोश और लगातार हो रहे प्रदरसन के बिच उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ परिस्थियों को देखते हुए चेतावनी दी है, और कहा

हमारी सरकार भी निर्णय ले रही है की हम लव जिहाद को सख्ती से रोकने का कार्य करेंगे, अगर ये लोग जल्दी से सुधरे नहीं तो अब राम नाम की यात्रा निकलने वाली है !

राज्य में हुए घटना को देखते हुए हरियाणा के कैबिनेट मंत्री “अनिल विज” भी CM Yogi की तरह लव जिहाद के खिलाफ कानून लाने जा रहे हैं, उन्होंने कहा – हरियाणा में लव जेहाद के खिलाफ कानून बनाने पर विचार किया जा रहा है

Tweet from HM Anil Vij

अपराधी के कांग्रेस पार्टी के नेता से संबन्ध हैं, जिसके कारन परिवार को बेचैनी है की अपराधी छूट न जाये। गंभीरता को देखते हुए कैबिनेट मंत्री अनिल विज लगातार निगाहें जमाये हुए हैं, उन्होंने कहा की ‘किसी की दबंगई नहीं चलने दूंगा’, इसके पहले उनहोंने Tweet कर यह भी बताया था की तौसीफ को जुर्म कबूल है।

Tweet from HM Anil Vij

Bihar Assembly Election 2020: भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक, योगी आदित्यनाथ झंझारपुर विधानसभा के चुनावी रैली में

बिहार के झंझारपुर विधानसभा से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार श्री नितीश मिश्रा जी के चुनाव प्रचार में स्टार प्रचारक के रूप में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ मिथिला की धरती पर आज २९ ओक्टुबर २०२० को १ बजे जन सभा को सम्बोधित करने आ रहे हैं।

निकिता हत्या कांड के बाद परिवार को भाई नवीन तोमर की हत्या का सता रहा है डर!

0

मुस्लिम लड़के “तौसीफ़ खान” से धर्म परिवर्तन और निकाह करने से मना करने पर तौसीफ़ ने अपने दोस्त रेहान खान के साथ मिलकर छात्रा निकिता तोम की सोमवार शाम 4 बजे कॉलेज द्वार के बाहर (फरीदाबाद के बल्लबगढ़) गोली मार कर हत्या कर दी गई जब वो B.Com की एग्ज़ाम देकर घर लौट रही थीं।


निकिता के भाई नवीन तोमर ने बहन के इन्साफ के लिये सरकर से दोषियों को गोली के बदले गोली मारने की माँग की। वहीं परिवार को भाई की भी हत्या का डर सता रहा निकिता की माँ ने कहा जो मेरी बेटी को सरेआम गोली मार सकता है, उसे मेरे बेटे को भी मारने मे संकोच नहीं होगा। क्यूँकी आरोपित के भाई कांग्रेस के वरिस्ट नेता हैं इसिलिए परिवार को डर है की कहीं उसके भाई अपराधियों के हाथ ना चढ़ जाए इसलिये परिवार ने सरकर से सुरक्षा की मांग की और दोषियों के लिये फांसी की।

हालाँकी पुलिस प्रसासन द्वारा दोनों आरोपितों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया गया और पूछ-ताछ मे तौसीफ ने पुलिस को बताया कि उसने निकिता तोमर को मार डाला क्योंकि वह किसी और से शादी करने वाली थी। जांच के दौरान, यह भी पाया गया कि आरोपी तौसीफ और निकिता ने 25 अक्टूबर की रात को फोन पर बातचीत की

फरीदाबाद: लव जिहाद से मना करने पर निकिता तोमर की गोली मार कर हत्या

0

लव जिहाद के लिए मुस्लिम युवक ने बल्लभगढ़ थाना क्षेत्र में 21 साल की छात्रा निकिता तोमर की गोली मारकर हत्या कर दी। वारदात को अग्रवाल कॉलेज (फरीदाबाद) के पास अंजाम दिया गया। हमलावर अपने साथी के साथ कार में सवार होकर आया था। उसने पहले छात्रा को कार में खींच अपहरण का प्रयास किया, छात्रा ने खुद को अपहरण से बचाने मे सफल हो गई तो युवक ने गोली मार कर हत्या कर दी।

मूलरूप से हापुड़ निवासी छात्रा निकिता तोमर के पिता मूलचंद तोमर सेक्टर-23 के पास रिहायशी सोसायटी में रहते हैं, उनके मुताबिक रोजका मेवात निवासी तौसीफ 12वीं कक्षा तक निकिता के साथ पढ़ा था निकिता से एक वर्ग सीनियर था। ये लोग उस पर दोस्ती के लिए दबाव डाल रहे थे, मगर लड़की ने इसके लिए साफ इन्कार कर दिया ।